UA-37077090-1 Kya sachmein maine bewafai ki hai - Sad Hindi Love Story

HINDI LOVE STORY

Best Collection of Hindi love Story | हिंदी कहानी | Hindi Story | Stories in Hindi | Hindi Love Stories | Love Stories in Hindi




Kya sachmein maine bewafai ki hai – Sad Hindi Love Story


Kya sachmein maine bewafai ki hai – Sad Hindi Love Story

आज से १ साल पहले मैं अपनी सिस्टर के लिए जॉब सर्च कर रही थी। तब मेरी बात मेरे एक दोस्त से हुई जिसका नाम शान पाण्डेय है वो जयपुर में रहता है उसने मुझे अपने एक दोस्त के बारे में बताया जिसका नाम रजत शर्मा है जो की यही दिल्ली मी रेहता है उसका अपना ही बिज़नस है पेपर्स का शान ने कहा की रजत से बात करलो उसको जरुर पता होगा। फिर कुछ दिनो तक मेरी रजत से जॉब के लिए ही बात होती रही फिर मेरी सिस्टर को जॉब मिल गई मेरे ही एक दोस्त के ऑफिस में उस बीच मेने रजत से बात बंद कर दी थी।

लेकिन कभी कभी उसका फ़ोन आ जाया करता था। हमारी बातें धीरे धीरे बड़ने लगी मैंने रजत को कभी देखा नही था हम फ़ोन पे ही बात किया करते थे एक दिन ऐसा हुआ की रजत का कॉल आया शाम को मैंने बस तक इंतजार कर रही थी। मैंने कहा उससे की आज कल बहोत मेरबनी हो रही है हम पे इतने कॉल क्या बात है उस बीच हम अछे दोस्त हो गए थे।

रजत ने एक दिन अपने प्यार का इज़हार किया मुझे मैंने रजत को सिर्फ अपना दोस्त ही समझा था हमेसा और मोहब्बत में एक बार धोखा खा ही चुकी थी इसलिए उदास रहा करती थी जब रजत ने इज़हार किया तो मैंने माना कर दिया मैंने रजत से कहा की मैं इश्क से नफरत करती हूँ “मोहोब्बत करके देखा है, मोहोब्बत में धोखा है, मोहोब्बत करने वालों को हमेसा रोते देखा है।

रजत ने कहा मैदम धोखा तो हमने भी खाया है लेकिन मैं आपसे शादी करना चाहता हूँ मैंने २ दिनों तक सोचा उसके बात रजत से कहा ठीक है लेकिन शादी घरवालों की रजामंदी से ही होगी। रजत ने कहा ठीक है मैंने हां तो कर दिया था बात बातें दोस्त की तरह ही किया करते थे मैंने अपने घरवालों को बताया रजत के बारे मैं की मेरा एक दोस्त है उसने शादी के लिए कहा है।


पहले तो माँ-पापा ने बहोत गुस्सा किया लेकिन फिर मैंने उन्हें मना लिया। मैं रजत को एक दिन अपने घर लेके गई माँ से मिलवाया यह कह कर की ये मेरा दोस्त है। रजत से लिए पापा अक्सर पूछा करते थे की उसने अपने घरवालों से बात की या नही। और जब भी मैं रजत से ये बात पूछती उसका यही जवाब होता था की पहले सिस्टर की शादी करेंगे पापा फिर मेरी।

मुझे उसपे शक होने लगा था की हमेशा यही जवाब होता है। आय दिन हमारी लड़ाई हुई करती थी एक दिन मैं बहोत परेसान थी मैंने रजत से बहोत गुस्से में कहा की आज क्लियर बता दो की आखिर बात क्या है थोड़ी देर लड़ाई करने के बाद जब रजत को गुस्सा आ गया तो उसने सच बोल की उसके परिवार वाले इस शादी के लिए तयार नही हैं।

रजत ने कहा मुझसे की अगर तुम सच में मुझसे प्यार करते हो तो घर से भाग के शादी कर लो मुझसे। घर वालों को हम बाद में मना लेंगे। फिर मैंने रजत के भाई से बात की इस बारे में की आखिर रजत का परिवार क्या मान जायेगा तब उसने कहा की हमारे लिए हमारे परिवार से बढकर कुछ नही है और रजत सिर्फ टाइमपास कर रहा है।

अगले दिन जब फिर से रजत का कोल आया फिरभी उसने यही बात की और मैंने मना कर दिया की मुझसे तुमसे शादी करनी ही नही है। और मैंने रजत से बात करनी बंद कर दी। आज भी रजत अक्सर यही कहता फिरता है की तमन्ना बेवफा है।

दोस्तों आप ही बताइए क्या सच में मैंने बेवफाई की है रजत से। क्या तब वफ़ा होती जब मैं उस लड़के लिए अपने माँ-पापा को छोड़ देती जिन्होंने मुझे इतना बड़ा किया, पड्या-लिखाया इस काबिल बनाया।


(Visited 6,739 times, 1 visits today)
Updated: February 5, 2015 — 10:55 pm

13 Comments

Add a Comment
  1. u r right all boys are same only time pass karte hai fir chhodkar chale jate hai pyar ki kadra karna boys ko nahi aata aapne sahi kiya aap bewafa nahi ho

  2. u r right all boys are same only time pass karte hai fir chhodkar chale jate hai pyar ki kadra karna boys ko nahi aata

  3. Nai bewafai ap nai vo kiye h kisi ke sath pyar ke liye timepass nai krna chajlheye kisi ke dil me kya bitati hogi

  4. U r so great yaar kyuki ase fensle KaRene k liye himat ki Jarurat hoti h

  5. yaar aap bilkul right ho wo to aapko dhokha dena wala tha

  6. Yar tum apni jagh bilkul sahi ho kyoki ma bap k bad he dusra rista acha lgta h

  7. Ap jo kiye sahi kiye

  8. Phele family h…you r right

  9. Hi friend tum kon ho kaise ho pr aapki storry pdny k baad mujhy lga ki aap right ho blki
    Hr ldki ko aisa krna chahiy tabhi smaaj saaf hoga

  10. I think aap bewafa nahi ho WO he bewafa h aapko to aapki family se bhe pyar h or usko na aapse or na he aapki family se pyar tha wo only aapko use krna chahta tha WO hua nahi es liye he aapko bewafa bta reha h bus ……..

  11. yaar mughe nahi lagta aap bebafa ho

    mera manna h ki aapko rajat se pyar hi nahi tha

  12. Dear Friend,

    I don’t know…ki tum kaun ho kaisi ho… kya ho… but iss story k hisaab se aap apni jagha bilkul sahi ho har engle se… jo baate apne Mr. Rajat ji se kahi or jo mata pita k dilo ka or unke jasbaton k sath khela nhi… unse bhak shadi nhi ki … very good apki ye baat bahot achhi lagi mujhe… Duniya me har rishta mil jata hai… apke mata pita nhi iss liye unka samman karo…

    Or rahi baat apke bewafa hone ki… to aisa kuch bhi nhi hai… vo insaan sirf or sirf apke sath baate karna chahta hai… or time pass karna chahta hai…iss liye apka usko bhul jana hi behtar hoga… or aage se dhyan rakhna ki aise aap kisi k bhi chakkaro me na aye… Qki har mata pita ko iss bahot taqleef pahonchti hai… unke kehne pe chale… sab achha hi achha hoga…
    and don’t be feeling sad because… galti insaano se hi hoti hai… cool raho family me raho or mast raho… best of luck …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

HINDI LOVE STORY © 2014 Frontier Theme